Search

लॉन्ग कोविड -19 से प्रभावित हैं उन्हें दीर्घकालिक दुष्प्रभावों से बचाने के लिए निरंतर निगरानी आवश्य

जो कोविड -19 से प्रभावित हैं, उन्हें दीर्घकालिक दुष्प्रभावों से बचाने के लिए निरंतर निगरानी की आवश्यकता होती है। कोरोना वायरस को लेकर की गई एक अंतरराष्ट्रीय स्टडी में बताया गया है कि लॉन्ग कोविड (Long Covid) के 200 से ज्यादा लक्षण देखे गए हैं. जिसकी वजह से दुनियाभर के डॉक्टर्स और शोधकर्ताओं को नेशनल स्क्रीनिंग प्रोग्राम चलाने की सलाह दी गई है.


अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन नेटवर्क ओपन के जर्नल में इस सप्ताह प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, अस्पताल में भर्ती मरीजों ने COVID-19 के लिए सकारात्मक परीक्षण किया, उनमें सांस की तकलीफ, थकावट और टाइप 2 मधुमेह होने की संभावना अधिक थी।



अब यह है कि लोग सिर्फ एक या दो बार नहीं बल्कि कई बार इससे संक्रमित हो रहे हैं। बात यही खत्म नहीं होती, एक बार संक्रमित होकर ठीक हुए लोगों में हफ्तों के महीनों तक कोरोना के लक्षण देखे जा रहे हैं। मेडिकल भाषा में इसे लॉन्ग कोविड (Long Covid symptoms) कहा जाता है। मेडिकल एक्सपर्ट्स मान रहे हैं कि कोरोना से जूझने के बाद किसी व्यक्ति में लक्षण काफी दिनों तक रह सकते हैं और साथ ही कई जटिलताएं भी विकसित हो सकती हैं।


सांस की तकलीफ 20 वर्ष से अधिक उम्र के रोगियों में अधिक आम थी, जिन्होंने सकारात्मक परीक्षण किया था, भले ही वे अस्पताल में भर्ती हों या नहीं। नई थकान और टाइप 2 मधुमेह का प्रसार 20 वर्ष से अधिक उम्र के अस्पताल में भर्ती लोगों में भी सकारात्मक परीक्षण के परिणाम के साथ अधिक था, जैसा कि संज्ञानात्मक शिथिलता, नींद संबंधी विकार, हृदय गति असामान्यताएं और मायोन्यूरल विकारों के निदान थे। 20 साल से कम उम्र के अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए, सांस की तकलीफ भी एक लक्षण था; सकारात्मक परीक्षण करने वालों के लिए टाइप 2 मधुमेह बहुत अधिक सामान्य था।



ये अनुमान SARS-CoV-2 संक्रमण के बाद पहले महीने के बाद नए लक्षणों और स्थितियों के विकास की निगरानी के लिए स्वास्थ्य देखभाल पेशेवरों और रोगियों की आवश्यकता को उजागर करते हैं, विशेष रूप से उन व्यक्तियों के लिए जिन्हें तीव्र COVID-19 के लिए अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता होती है, “शोधकर्ताओं ने लिखा। जामा नेटवर्क ओपन स्टडी।


मेडिकल एक्सपर्ट्स की माने तो इस कोविड के बाद आपको अपना हेल्थ मॉनिटरिंग करना बहुत ही ज़्यदा जरुरी है जिससे की आने वाले वक़्त में हम जानलेवा बीमारी का पता लगा सके और सही समय में इलाज ले सके |

अपनी स्वास्थ्य विश्लेषण रिपोर्ट अभी बुक करें


25 views0 comments

Recent Posts

See All

Researchers find U.S. adults who consume more ultra-processed food report more adverse mental symptoms Do you enjoy those boxed foods, reconstituted meats, and sugary drinks? Based on a recent study t